हिन्दुस्तान24.लाइव
फरीदाबाद, 22 मार्च (राहुल चौधरी): देशव्यापी कोरोना वायरस की समस्या के बीच सरकार व प्रशासन के साथ साथ धर्मस्थल भी अपना कार्य कर रहे हैं। इसी कड़ी में सूरजकुंड रोड स्थित श्री सिद्धदाता आश्रम ने सर्वकल्याणकारी सुदर्शन यज्ञ का आयोजन किया। इस यज्ञ में आश्रम के अधिपति जगदगुरु स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने वेदपाठी विद्यार्थियों के संग सवा लाख मंत्रों के साथ आहूति दी और परमपिता परमेश्वर से सर्वजनकल्याण एवं रोगमुक्ति की प्रार्थना की। इस अवसर पर स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने कहा कि सनातन धर्म का मूल सिद्धांत विश्व के मानवजनों की रक्षा करना है और श्री सिद्धदाता आश्रम की स्थापना भी मानवमात्र की सेवा के उद्देश्य से हुई है। स्वामीजी ने बताया कि वेदों में वर्णित विधियों में समस्त कष्टों को हरने की शक्तियों के बारे में बताया गया है। ऐसे ही सुदर्शन यज्ञ में समस्त संकटों का निदान प्राप्त होता है। हमें विश्वास है कि यज्ञ से वातावरण में व्याप्त विषाणु समाप्त होंगे और हमें नई प्राणवायु प्राप्त होगी। जगदगुरु स्वामी श्री पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने बताया कि श्री सुदर्शन यज्ञ के साथ साथ महामृत्युंजय मंत्र के साथ सवा लाख आहूतियां भी आज डाली गई हैं। जिससे हमें पूर्ण विश्वास है कि जल्द ही भारतवर्ष सहित समस्त विश्व को जल्द इस कोरोना नामक संक्रमण से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने सभी से शासन एवं प्रशासन के निर्देशों सहित अपने शारीरिक हाइजीन और सेनिटाइजेशन का पूरी तरह से पालन करने की बात भी कही है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस की खबरों के बीच श्री सिद्धदाता आश्रम को दो बार पूरी तरह से सेनिटाइज किया जा चुका है। वहीं यहां आने वाले सभी भक्तों को सेनिटाइज करवाया जा रहा है। पुजारियों को पूरे दिशा निर्देश दिए गए हैं जिससे कि वह निर्विघ्नं पूजन अर्चन कर सकें।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें