हिन्दुस्तान24.लाइव
फरीदाबाद,23 मार्च (राहुल चौधरी): मुख्य सचिव हरियाणा केशनी आनंद अरोडा ने चण्डीगढ़ से लॉकडाउन हुए 7 जिलों के उपायुक्तों व पुलिस आयुक्तों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना वायरस से बचने के लिए जिलों में लॉकडाउन किया गया है जिसके लिए हर जरूरी एहतियात बरती जाए। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान सभी उपायुक्त को अपने जिले में लॉक डाउन पूरी तरह से लागू करना सुनिश्चित करें। सभी उपायुक्त जिले में एक शिकायत समीक्षा व्हाट्सअप ग्रुप बना ले जिसमें अधिकारियों के साथ साथ आरडब्ल्यूए को भी शामिल करें जिससे कि उस ग्रुप पर जो भी शिकायत आती हैं तो उसे सम्बंधित अधिकारी उस शिकायत का तुरंत समाधान करें। उन्होंने कहा कि लेबर चौक पर लेबर ज्यादा संख्या में खडी नही होनी चाहिए। उन्होंने सभी उपायुक्तों को जिले में कण्ट्रोल रूम बनाने के निर्देश दिए। पुलिस आयुक्त केके राव ने मुख्य सचिव को बताया कि जिले में पूर्णतया शांति का माहौल है। पुलिस ने जिले के बोर्डरों पर नाके लगा रखे हैं, जरूरतमंद व्यक्तियों को ही बाहर निकलने कि अनुमति दी जा रही है। उपायुक्त यशपाल ने मुख्य सचिव को आश्वासन दिया कि जिले में सब सामान्य चल रहा है। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जिले में मॉल, ढाबे, फैक्ट्री, होटल, कैफे आदि को बंद करा दिया गया है तथा लोगो के जरूरत कि दुकानों को जिसमे दवाइयाँ, दूध, किरयाना स्टोर, सब्जी मण्डी को खोला गया है जिससे लोगो को दिनचर्या की चीजें लेने में किसी भी प्रकार कि समस्या न हो। उपायुक्त ने आम जनता से आह्वान किया कि वह लॉकडाउन में सरकार व प्रशासन का सहयोग करें जिससे हम सभी इस खतरनाक वायरस से अपना व अपने परिवार को सुरक्षित रख सकें। उन्होंने कहा कि अगर हम सब अपना काम स्वयं करे तो इससे कोई बाहर से व्यक्ति आपको इस वायरस से संक्रमित नहीं कर सकता। इस बैठक में पुलिस व प्रशासन के वरिष्ट अधिकारीगण मौजूद रहे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें